Maithili Bewafa Shayari: जानै छली की कहियो नई हो सकब अहाँ हमर

0
374

Maithili Bewafa Shayari:

जानै छली की कहियो नई हो सकब अहाँ हमर
तैयो भगवान से अहाँ के मांगे के आदत भ गेल छलै
नई जाइन वफ़ा की छै, हमरा की मालूम
की बेवफा सँ दिल लगाबए के आदत भ गेलै

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here