Maithili Shayari – दोस्ती के दास्तान जब कोई सुनायत

0
128







दोस्ती के दास्तान जब कोई सुनायत ,
सब सँ पहिने अहिंक नाम आयत !
और दोस्ती करैय सँ पहिने सब ,
अप्पन दोस्ती के कसम खायत !!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here